मेरी दुनिया में तेरी मौजूदगी यूँ ही तो नहीं है …कौन चाहता है अपनों से दूर रहना पर वक़्त सबको मजबूर बना देता है.जो सरूर है तेरी आँखों में… Read More


थक गया हूँ मै, खुद को साबित करते करते, दोस्तों..हुसन पे जब मस्ती छाती है, शायरी पर बहार आती है,सुना हे, वोह जब मायुश होते हे, हमे बहोत याद कर… Read More